Explore

Search
Close this search box.

Search

Friday, June 21, 2024, 10:49 pm

Friday, June 21, 2024, 10:49 pm

Search
Close this search box.
LATEST NEWS
Lifestyle

825 बच्चों ने ली धार्मिक एवं नैतिक शिक्षा, शिविर के समापन पर प्रतिभाओं का हुआ सम्मान

Share This Post

दीपक कुमार सिंघवी. जोधपुर

श्री जैन रत्न युवक परिषद के तत्वावधान में आयोजित 28वें धार्मिक एवं नैतिक शिक्षण शिविर का समापन रविवार को सामायिक स्वाध्याय भवन नेहरू पार्क एवं सामायिक स्वाध्याय भवन शक्ति नगर में हुआ। परिषद के अध्यक्ष गजेंद्र चौपड़ा ने बताया कि ग्रीष्मकालीन अवकाश का सदुपयोग करने एवं बालक बालिकाओं में धार्मिक संस्कारों के बीजारोपण के लिए धार्मिक एवं नैतिक शिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। 28वां शिविर जोधपुर मे आयोजित किया गया। इसमें कुल 825 बालक बालिकाओं ने धार्मिक अध्ययन कर ज्ञानार्जन किया एवं अपने ग्रीष्मकालीन अवकाश का सदुपयोग करते हुए नैतिक संस्कारों को प्राप्त किया।

श्री जैन रत्न हितैषी श्रावक संघ के अध्यक्ष सुभाष गुंदेचा ने कहा कि इस बार इस शिविर को एक नए अंदाज में आयोजित किया गया, जिसमें सभी बच्चों को सामायिक का शुद्ध स्वरूप समझाया गया एवं सामायिक, प्रतिक्रमण कंठस्थ करवाया गया । साथ ही बालक बालिकाओं को नैतिक संस्कार प्रदान किए गए। लगभग 70 अध्यापकों ने अपनी सेवाएं प्रदान की तथा उनके द्वारा बालक बालिकाओं को धार्मिक ज्ञान के साथ व्यावहारिक जीवन में उपयोग आने वाले छोटे-छोटे संस्कार प्रदान कर जीवन निर्माण करने का प्रयास किया । शिविर में सभी केंद्रों पर अलग-अलग कक्षाओं में विद्यार्थियों को अध्यापकों द्वारा सामायिक, प्रतिक्रमण आदि का पाठ्यक्रम सिखाया गया।

संतों का भी मिला आशीर्वाद, बच्चाें ने की चरण वंदना

सामायिक स्वाध्याय भवन पावटा में विराजित आचार्य भगवंत हीराचंद्र महाराज अध्यवसायी भावी आचार्य महेंद्र मुनि महाराज के मंगल आशीर्वाद एवं प्रवचन के लिए शिविर के मध्य में रविवार के दिन सभी शिविरार्थियों को सामूहिक रूप से गुरु चरणों में उपस्थित किया गया । जहां पर मधुर व्याख्यानी गौतम मुनि महाराज ने एवं संत-साध्वी वृन्द ने अपने मंगल प्रवचन से बालक बालिकाओं को प्रेरणा प्रदान की तथा जैनत्व के संस्कारों को सुरक्षित रखने की पावन प्रेरणा करते हुए छोटे-छोटे नियम करवाए । 8 जून को दोनों केन्द्रों पर परीक्षा आयोजित की गई जिसमें सभी शिविरार्थियों ने अपने सीखे गए ज्ञान का आकलन किया । रविवार को दोनों केन्द्रों पर अभिभावक-शिक्षक मीटिंग के रूप में समापन समारोह आयोजित किया गया तथा बालक बालिकाओं के माता-पिता के समक्ष अध्यापकों ने शिविरार्थियों का परीक्षा परिणाम घोषित किया एवं उनको प्रोत्साहन पुरस्कार देकर सम्मानित किया और अभिभावकों से अपने बालक बालिकाओं के लिए समय निकालकर सीखे गए ज्ञान को निरंतर जीवन में आगे बढ़ाते रहे इसलिए सहयोग करने हेतु प्रेरणा की । कक्षाओं में वरीयता सूची प्राप्त करने वालों को संघ द्वारा पुरस्कृत किया गया । दोनों केन्द्रों पर शिविर की सुचारू व्यवस्था में संयोजक नरेंद्र जी बाफना, अशोक मेहता एवं कमलेश मेहता की पूरी टीम का अच्छा सहयोग रहा ।इस अवसर पर महामंत्री धनपत सेठिया, अध्यक्ष सुभाष गुंदेचा, मंत्री नवरत्न गिड़िया, कोषाध्यक्ष जिनेंद्र ओस्तवाल, रजिस्ट्रार धर्मचंद जैन, कोषाध्यक्ष लोकेंद्र मोदी, कार्याध्यक्ष महेश रांका एवं संघ के सभी पदाधिकारी के साथ सभी कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Rising Bhaskar
Author: Rising Bhaskar


Share This Post

Leave a Comment